गिलोय का उपयोग है सुरक्षित- आयुष मंत्रालय
giloy new

द स्पेशल न्यूज़// दिल्ली ब्यूरो// गुडुची( गिलोय) एक सुरक्षित और प्रभावी आयुर्वेदिक दवा है। कोरोना काल में आयुर्वेद से जुड़ी जानकारियां जन-जन तक पहुंची है। वैसे आयुर्वेद की जड़ी-बूटियों के बारे में जानकारी बड़े-बुजुर्गों में काफी हद तक होती थी। 

 
घर में या आस-पास उगने वाली जड़ी-बूटियों का प्रयोग अक्सर लोग कर लेते हैं, हालांकि एक योग्य, पंजीकृत आयुष चिकित्सक के परामर्श से उपयोग करने की सलाह दी जाती है। मगर ध्यान देने की बात यह है की कई जड़ी-बूटियां दिखने में एक समान हो सकती हैं।  ऐसे में गलत जड़ी-बूटी का चयन स्वास्थ्य के लिए घातक भी हो सकता है । 


ऐसी ही एक बेहद उपयोगी आयुर्वेदिक औषधि गिलोय के बारे में आयुष मंत्रालय ने सलाह जारी की है। इसमें गुडुची (टिनोस्पोरा कॉर्डिफोलिया) के उपयोग को लेकर सुरक्षा संबंधी चिंताओं पर ध्यान दिया है।
 

गुडुची एक लोकप्रिय जड़ी बूटी है, जिसे गिलोय के नाम से जाना जाता है और आयुष प्रणालियों में लंबे समय से चिकित्सा के लिए इसका उपयोग किया जा रहा है।

गुडुची (टिनोस्पोरा कॉर्डिफोलिया) उपयोग करने के लिहाज से सुरक्षित है लेकिन कुछ समान दिखने वाले पौधे जैसे टिनोस्पोरा क्रिस्पा हानिकारक हो सकते हैं। 

Share this story